क्या मांस खाना उचित है ? शाकाहर या मांसाहार।

                                शाकाहार या मांसाहार 



देखा जाये तो दुनिया के सबसे बड़े मुद्दों में से एक यह एक है कि शाकाहर उचित है या माँसाहार।  कुछ लोगों का मानना है की मनुष्य मांस खाने के लिए नहीं बना है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि प्रोटीन की पूर्ति के लिए मनुष्य का मांस खाना जरूरी है। 

इसी मुद्दे को ध्यान में रखते हुए आज आपके सामने कुछ बातें रखूंगा उसको देखने के बाद ये फैसला आपका होगा कि मांसाहर उचित है या अनुचित। 


क्यों उचित है शाकाहार :

 भारत देश की एक बड़ी आबादी शाकाहारी है। भारत में कई लोग ऐसे है जो मांस खाना पसंद नहीं करते।  कुछ लोग अपने आद्यात्मिक उदेश्यों को लेकर ऐसा करते है ,वहीं कुछ लोगों का मानना है कि मांसाहार हमारे स्वस्थ्य के लिए उचित नहीं है।  
  

                                क्या कहता है विज्ञान :

विज्ञानं में हो रही दिन -प्रतिदिन नई खोजों के अनुसार ये बातें सामने आती है कि मांसाहार करने से भविष्य में हमे कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। यदि मनुष्य मांस खाना छोड़ देता है तो इंसानो में होने बाली कई तरह की बीमारियां काम हो जाएगी जैसे दिल के कई रोग , स्ट्रोक और कई तरह के कैंसर भी।  मांस छोड़ने से हमारे वातावरण में काफी फायदा होगा। क्योंकि मांंस की सफाई करते समय उससे मीथेन गैस निकलती है, और मांस की सफाई पर होने बाला पानी भी बच जायेगा। 


दोस्तों गीता में भी बताया गया है कि भोजन हल्का और सात्विक होना चाहिए। सात्विक भोजन कई तरह की बीमारियों से बचाता है और आयु को बढ़ाता है। तथा मांस तामसिक भोजन की सूचि में आता है और ऊपर से हम उसे स्वाद के लिए कई तरह के तेज़ मिर्च मसालों में पकाते है जो की उसे और ज्यादा तामसिक बना देता है। 

देश और दुनिया के कई खिलाडी भी शाकाहारी है उनका मानना है की शाकाहारी होने से उन्हें अपने गेम में फोकस करने में मदद मिलती है। और ये उन्हें फिट रखने में भी मदद करता है। 
उदाहरण के लिए विराट कोहली और रॉजर फेडरर जो कि पूर्णता शाकाहारी है। 


                                   क्या उचित है मांसाहार :

दूसरी और यदि हम देखते है ,मांसाहार जो की प्रोटीन और आयरन तथा कई अन्य पोषक तत्वों का अच्छा स्त्रोत है। जैसे की मुर्गा ,मछली और अंडा। ये हमारे शरीर के पोषक तत्वों की पूर्ति  जरूरी है और स्वाद में काफी अचे होते है।  

पर आजकल के मांस की हालत कुछ ठीक नहीं है क्योंकि व्यापार के लिए लोग इसमें कई तरह की मिलावट करते है ताकि मांस की ज्यादा से ज्यादा आपूर्ति हो सके। मुर्गो में कई तरह के injections के लगाए जाते है ताकि उनमे ज्यादा से ज्यादा मांस त्यार किया जा सके। 


                                             सार :

यदि आप स्वस्थ और लम्बी उम्र पाना चाहते है तो आपके लिए उचित होगा की आप मांस का कम से कम सेवन करें। यदि करना है मछली का करें लेकिन कम ,क्योंकि मछली स्वास्थ्य के लिए अच्छी होती है। 
यदि आप एक विद्यार्थी है ,या आप अद्यात्म में रूचि रखते है  लिए शाकाहार ही उचित रहेगा क्योंकि ये आपका ध्यान , बल और बुद्धि को बढ़ाता है। 
ये फैसला आपको करना है कि शाकाहार उचित है मांसाहार। 


                       

0 Comments